Posts

Quote unquote feminism - some general personal thoughts

To the Women - a letter by Neha Shama

दिल्ली दरबार

letter to the chef

I WAS THERE WHERE IT ALL BEGAN

वीकेंड डायरी : गम-ए-हस्ती का 'असद' किस से हो जुज्मर्ग इलाज

आखिरी जन कवि की पहली पुण्यतिथि

ख़त नंबर एक

Jane Eyre - A thoughtful journey

मुसाफिर कैफ़े

शोभित की कवितायेँ

आगा शाहिद अली की कवितायेँ

रामकृष्ण पाण्डेय की कुछ कवितायेँ. 

मील के पत्थर

पटना में चल रही ग़ैर-कविताओं और यहाँ के अ-कवियों के बारे में सोचते हुए कविता के एक ठेकेदार के रफ़ नोट्स - अंचित

आज चंद्र्ग्रहण है - निशान्त

जब तक आदमी का होना प्रासंगिक है कविता भी प्रासंगिक है - कुमार मुकुल